बिहार: दिव्यांग प्रमाणपत्र के 85 प्रतिशत से जादे धारक पूरा तरीका से स्वस्थ

TBNN

बिहार के मोतीहारी में जांच के दौरान दिव्यांग प्रमाणपत्र के 85 प्रतिशत से जादे धारक पूरा तरीका से स्वस्थ मिलले।

बिहार के मोतीहारी में जांच के दौरान दिव्यांग प्रमाणपत्र के 85 प्रतिशत से जादे धारक पूरा तरीका से स्वस्थ मिलले।

बिहार के पूर्वी चंपारण जिला में गैर कानूनी तरीका से लोग के सरकारी योजना आ नियम के लाभ दियावे वाला खेल के खुलासा भईल। ए खेल में शामिल दलाल अवुरी अधिकारी नियम कानून के ताक प रख के पईसा के बदला कुछ लोग के दिव्यांग के प्रमाणपत्र जारी कईले।

जिला के मधुबन प्रखण्ड से जुडल मामला में जब दिव्यांग प्रमाणपत्र के जांच भईल त 26 में 23 प्रमाणपत्र के धारक दिव्यांग ना मिलले। मतलब साफ बा, पूरा तरीका से स्वस्थ आदमी के सरकारी योजना अवुरी नियम में लाभ देवे खाती जानबूझ के दिव्यांग के प्रमाणपत्र जारी भईल।

मालूम रहे कि बिहार में दिव्यांग प्रमाणपत्र धारक के राज्य अवुरी केंद्र सरकार के अलग-अलग योजना के तहत लाभ मिलेला। राज्य में बिहार राज्य विकलांगता पेंशन, मुख्यमंत्री सामर्थ्य योजना, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विकलांगता पेंशन योजना, मुख्यमंत्री विकलांग शशक्तिकरण योजना समेत अलग-अलग योजना आ विभाग के अलावे रेलवे अवुरी हवाई यात्रा के टिकट में छुट मिलेला।

अलग-अलग योजना अवुरी छुट के संगे दिव्यांग प्रमाणपत्र धारक साल में हजारों रुपया के लाभ सरकार से पावेला। अकेले मधुबन ब्लॉक में बिहार राज्य विकलांगता पेंशन के तहत एक साल में 1,92,800 रुपया के भुगतान भईल बा।

  • Share on:
Loading...