1000+ भोजपुरी के कहाउत अवुरी मुहावरा: क्रमांक 951 से लेके 1000 तक

951. सेर मरद पसेरी बरद।
952. सेराइल बा सथाइल बा, बखरवो कहीं जाई!
953. सोना दहाइल जाए, आ कोईला प छापा।
954. सोना सोनार के सोभा संसार के।
955. सोम आ दानी के खरचा बराबर।
956. सोम के धन सैतान के नेवान।
957. सोरहो सिंगार घेघवे बिगाड़।
958. सौ घर कसाई, ऊहाँ एगो बाबाजी के का बसाई!
959. सौ चोट सोनार के एक चोट लोहार के।
960. सौ दवा एक संयम।

961. सौ में सूर हजार में काना, सवा लाख में ऐंचा ताना, ऐंचा ताना करे पुकार, बिलरी आँख से रहियो होंसियार।
962. सौती के टीस कठौती पर।
963. हँस के बोले नारी, सारा काम बिगाड़ी।
964. हँस के मांगे दाम, तीनो काम नकाम।
965. हँसल घर ही बसेला।
966. हँसुआ के बिआह में खुरपी के गीत।
967. हंस के मंत्री कउआ।
968. हजाम के बरिआत में ठाकुरे-ठाकुर।
969. हटिया के चाउर, बटिया के दाल।
970. हटिया के चाउर, बटिया के पानी, बइठल रिन्हेली मदोदरी रानी।

971. हड़बड़ के काम गड़बड़।
972. हड़बड़ी के बिआह कनपटी पर सेनुर।
973. हत्या के भरोसे बाछी फोद काढ़ेले।
974. हम अइनी तोर आपन जान, तें सुतले कमरी तान।
975. हम खेलीं आन से, सइंया विरान से, कुकुर लोंड़ू खेले गइले जव के पिसान से।
976. हमरा भरोसे रहिह ना, अपना घर खइह ना।
977. हमार एक आँख, गोतिया के दूनो आँख चल जाव मंजूर।
978. हमार नकिया छुंछे जाला ए भइया, आ तोहार लोलवा ए तेजनो?
979. हर कुदार नेग चार, अमृत बसे खुरपी के धार।
980. हर के मारल हेंगा विश्राम।

981. हर टूटे घर भरे, पाला टूटे त बजर परे।
982. हर द हरवाह द, आंड़ खोदे के पैना दऽ?
983. हर ना फार लबर-लबर हेंगा।
984. हर बरे से खर खाय, बकरी अंचार खाय।
985. हर हेंगा में कोढ़िया, पगुरी में रंग।
986. हरवाह चरवाह के इनार के पानी।
987. हरवाही में हरिनाम।
988. हरही के पेट में सोरही।
989. हरिजन चार बरन में ऊँचा।
990. हरी घास बकरी से इयारी।

991. हाँके भीम भए चौगूना।
992. हाकिम के हुकुम, नौकर के चाकर।
993. हाथ अगरबत्ती, गोड़ मोमबत्ती।
994. हाथ के मुसरी बिल में गइल, अब बिल कोड़न लागल।
995. हाथ गोड़ पवली, पात पर चटली।
996. हाथ गोड़ समतूला, अनकर रोटी बीख के मूला।
997. हाथ में ना गोड़ में टिक्का लिलार में।
998. हाथी अइलस हाथी, हाथी पदलख टिंर्र।
999. हाथी के हउदा ना, बकरी के ओहार।
1000. हाथी चोरावल, खाला-खाला गइल।

भोजपुरी कहाउत अवुरी मुहावरा के पूरा संग्रह के संख्या के आधार प बाँटल बाटे, पढ़े खातिर नीचे दिहल लिंक प क्लिक करी
क्रमांक 1 से लेके 50 तक
क्रमांक 51 से लेके 100 तक
क्रमांक 101 से लेके 150 तक
क्रमांक 151 से लेके 200 तक
क्रमांक 201 से लेके 250 तक
क्रमांक 251 से लेके 300 तक
क्रमांक 301 से लेके 350 तक
क्रमांक 351 से लेके 400 तक
क्रमांक 401 से लेके 450 तक
क्रमांक 451 से लेके 500 तक
क्रमांक 501 से लेके 550 तक
क्रमांक 551 से लेके 600 तक
क्रमांक 601 से लेके 650 तक
क्रमांक 651 से लेके 700 तक
क्रमांक 701 से लेके 750 तक
क्रमांक 751 से लेके 800 तक
क्रमांक 801 से लेके 850 तक
क्रमांक 851 से लेके 900 तक
क्रमांक 901 से लेके 950 तक
क्रमांक 951 से लेके 1000 तक
क्रमांक 1001 से आगे

  • Share on:
Loading...