बाल गीत - आउरे गइया निनर वन से

लोरी- उ गीत जवन कि महतारी अपना छोट लईकन के सुतावे खातिर गावेले। शायद एकरा सा जादा मशहूर लोरी कवनो ना होई।

आउरे गइया निनर वन से,
बबुआ हमार आवेला मामा घर से।

आऊरे गइया अगरी,
दुधवा ले आउ भर गगरी
बाबू के पिआउ भर पेटुकी।

निनिया अवेले निनर वन से
उरदी मूंग आवेला पटना से
खाट मांच आवे ननीअउरा से।

  • Share on:
Loading...