महंगा इंटरनेट सेवा के अंत होई, मात्र 100 रुपया में एक साल तक इंटरनेट सेवा मिली

महंगा इंटरनेट सेवा के अंत होई, मात्र 100 रुपया में एक साल तक इंटरनेट सेवा मिली

एक समय कम कीमत वाला आकाश टैबलेट के संगे मोबाइल बाज़ार में तहलका मचावे वाली डाटाविंड अब एगो अयीसन योजना प काम करतिया जवन जदी जमीन प उतरल त उ मात्र 100 रुपया में साल भर खाती इंटरनेट के सेवा दिही।

ग्रामीण क्षेत्र के ध्यान में राख के बनावल ए योजना के लागू करे खाती डाटाविंड 'वर्चुअल नेटवर्क ऑपरेटर' (वीएनओ) के लाइसेंस खाती आवेदन करी। जदी केंद्र सरकार कंपनी के लाइसेंस दे देलस त कंपनी मात्र 100 रुपए में 1 साल तक इंटरनेट सेवा दिही।

सौ करोड़ रुपया के निवेश योजना के संगे सरकार के ओर से 'वर्चुअल नेटवर्क ऑपरेटर' खाती जारी दिशा-निर्देश के देखत कंपनी अपना भावी योजना से बहुत उत्साहित देखाई देतीया।

सरकार के दिशा-निर्देश के स्वागत करत कंपनी के संस्थापक अवुरी मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनीत सिंह तुली कहले कि, देश के आज 100 करोड़ से जादे लोग इंटरनेट से दूर बाड़े। कंपनी एही लोग के ध्यान में राखत सस्ता दर प सेवा उपलब्ध करावे के लक्ष्य रखले बिया।

तुली कहले कि, आज के समय में भी इंटरनेट खाती गाँव के लोग साल में कम से कम 1200 रुपया खर्च करे के हालत में नईखन। ए लोग खाती ए खर्च के बोझ बहुत भारी बा। एही सभ के देखत उनुकर कंपनी मात्र 100 रुपया में एक साल तक इंटरनेट दिही।

डाटाविंड के कहनाम बा कि, अयीसन नईखे कि इ योजना नाया बा, कंपनी फिलहाल रिलायंस कम्युनिकेशंस अवुरी टेलीनॉर के संगे अपना ग्राहक के 1 साल तक मुफ्त इंटरनेट सेवा दे रहल बिया अवुरी अब एही योजना के आगे बढ़ावे खाती बाकी कंपनी से बातचीत होखता।

मालूम रहे कि दूरसंचार विभाग के ओर से जारी दिशा-निर्देश के मुताबिक 'वर्चुअल नेटवर्क ऑपरेटर' के लाइसेंस खाती आवेदन करेवाला के आवेदन कईला के 60 दिन के भीतर लाइसेंस दे दिहल जाई।

ए दिशा-निर्देश के मुताबिक 'वर्चुअल नेटवर्क ऑपरेटर' के लाइसेंस खाती आवेदक के प्रति टेलीकॉम सर्किल 7.5 करोड़ रुपया के एकमुश्त रकम चुकावे के होई। इ रकम सेवा ना देला, चाहे लाइसेंस वापस कईला के हालत में वापस ना होई।

डाटाविंड एही दिशा-निर्देश के आधार बनावत 100 करोड़ के निवेश अवुरी 100 रुपया में एक साल तक इंटरनेट देवा के योजना बनवले बिया। कंपनी के दावा बा कि उ तमाम मोबाइल ऑपरेटर कंपनी संगे बातचीत करतिया। जवन-जवन कंपनी 'वर्चुअल नेटवर्क ऑपरेटर' खाती जरूरी सुविधा उपलब्ध कराई ओकरा संगे करार क दिवाली से पहिले ए योजना के लागू क दिहल जाई।

  • Share on:
Loading...