फ़ेसबूक में लिंगभेद! महिला के अपना पसंद के कपड़ा पहिने प रोक

फेसबुक अपना महिला कर्मचारी के 'भड़काऊ' कपड़ा ना पहीरे देवे, कंपनी के अयीसन नियम संगे काम करे वाला लोग के ध्या न भटके से बचावे खाती बाटे।

फेसबुक अपना महिला कर्मचारी के 'भड़काऊ' कपड़ा ना पहीरे देवे, कंपनी के अयीसन नियम संगे काम करे वाला लोग के ध्या न भटके से बचावे खाती बाटे।

दुनिया के सबसे बड़ सोश्ल नेटवर्क मंच,फेसबुक के एगो पूर्व कर्मचारी अपना किताब में दावा कईले कि, फेसबुक अपना महिला कर्मचारी के 'भड़काऊ' कपड़ा ना पहीरे देवे, कंपनी के अयीसन नियम संगे काम करे वाला लोग के ध्याभन भटके से बचावे खाती बाटे।

'टेलीग्राफ' अखबार के रिपोर्ट के मुताबिक, फेसबुक में काम क चुकल एंटोनियो गर्सिया मार्टिनेज अपना किताब 'Chaos Monkeys' में इ खुलासा कईले बाड़े।

मार्टिनेज दावा कईले बाड़े कि, फेसबुक के मानव संसाधन विभाग के पुरुष अधिकारी (Male HR authority) के पसंद नईखे कि कवनों महिला कर्मचारी ऑफिस में छोट चाहे खुला गला के कपड़ा पहिन के आवस। मार्टिनेज कहले कि, विभाग मानेला कि अयीसन कपड़ा पहिने से ऑफिस में संगे काम करत बाकी कर्मचारी के ध्यान भटकेला।

टेकक्रंच पछिला साल के रिपोर्ट में कंपनी के एगो रिपोर्ट के हवाला देत कहले रहे कि फेसबुक के विविधता में सिर्फ मामूली सुधार भईल बा।

मार्टिनेज ने अपना किताब में लिखले बाड़े कि, 'विज्ञापन विभाग में आईल सोरह साल के एगो ट्रेनी लईकी हमेशा छोट कपड़ा पहिन के ऑफिस आवत रहे। हालांकि ओकरा के रोकल नाजायज रहे, लेकिन तबहूँ ओकरा के रोकल गईल।"

मार्टिनेज इहो दावा कईले बाड़े कि फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग के बहुत जल्दी आ बहुत जादे खीस (गुस्सा) बरेला।

मार्टिनेज कहले कि, एगो अंजान कर्मचारी कंपनी के ए नियम के मीडिया तक पहुंचा देलस। जवना के बाद जकरबर्ग कथित तौर प कार्यालय के समूचा स्टाफ के ईमेल भेजले कहले कि 'कृपया इस्तीफा दे दिही'। जकरबर्ग कहले रहले कि, चूंकि उ अंजान कर्मचारी फ़ेसबूक टीम के धोखा देले बा एहसे केहु के रहे के अधिकार नईखे।

हालांकि मार्टिनेज के ओर से लगावल आरोप प फेसबुक के प्रवक्ता अभी तक कवनों टिप्पणी नईखन कईले।

फेसबुक अपना कंपनी में ए साल 2,897 नाया कर्मचारी के जोड़ले बा जेकरा बाद कंपनी के करीब 10,082 कर्मचारी में से सिर्फ एक प्रतिशत महिला कर्मचारी बाड़ी।

  • Share on:
Loading...