छोट कद वाला पुरुष गंजापन के समस्या से जादे परेशान : रिसर्च

छोट कद वाला पुरुष गंजापन के समस्या से जादे परेशान : रिसर्च

मर्द के माथा के बाल गिरल, माने गंजापन खाती बहुत कारण हो सकता, लेकिन जर्मनी में भईल एगो अध्ययन के मुताबिक छोट कद वाला पुरुष ए समस्या से जादे पीड़ित होखेले।

जर्मनी के बॉन विश्वविद्यालय के अध्ययनकर्ता अपना अध्ययन में पवले कि छोट कद वाला पुरुष के बाल लंबा कद वाला पुरुष के मुक़ाबले जादे गिरेला।

करीब 20,000 पुरुष प भईल ए अध्ययन में शोधकर्ता दल पवलस कि समय से पहीले बाल झड़े के समस्या ओह पुरुष में ज्यादा होखेला जेकर कद छोट होखेला।

शोधकर्ता गंजापन के 11 हजार जीन के तुलना सामान्य स्थिति से कईले।

अध्ययन से शोधकर्ता ए नतीजा प पहुंचले कि, शारीरिक कद, पीला त्वचा अवुरी हड्डी के घनत्व बढ़ला के चलते समय से पहीले बाल झड़े के समस्या हो सकता।

प्रमुख शोधकर्ता डॉ. स्टीफैनी हैलीमेन कहले कि, हमनी के मानव शरीर के 63 जीनोम में होखे वाला बदलाव के पहचाने में कामयाब भईनी, जवन की समय से पहीले बाल झड़े खाती जिम्मेवार बा।

उ बतवले कि, अध्ययन से पाता चलल बा कि कुछ जीनोम खास बेमारी जईसे जल्दी परिपक्वता (समझदारी) आईल अवुरी तमाम तरह के कैंसर से जुड़ल रहे। ए हिसाब से देखल जाए त समय से पहिले बाल के झड़ल कवनों समस्या ना ह।

संगही, सलाह दिहल गईल कि बाल झड़ला से परेशान पुरुष के सूरज के रोशनी में विटामिन डी लेवे के चाही। शोध के रिपोर्ट नेचर जर्नल में प्रकाशित भईल बा।

  • Share on:
Loading...