'हम झारखंड में शराब बंद करे के कहनी त रघुबर दास बिहार बार्डर प शराब के दोकान खोलवा दिहले'

'हम झारखंड में शराब बंद करे के कहनी त रघुबर दास बिहार बार्डर प शराब के दोकान खोलवा दिहले'

झारखंड के भारतीय जनता पार्टी सरकार प हमला बोलत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहले कि, हम बिहार झारखंड में शराबबंदी खाती कहनी त रघुबर दास बिहार सीमा प शराब के दोकान खुलवा दिहले।

रविवार के झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी के एगो कार्यक्रम में जमशेदपुर पहुंचल नीतीश कुमार कहले कि, "जब हम बिहार में शराबबंदी लागू कईनी त झारखंड के मुख्यमंत्री से बिहार के सीमा से सटल झारखंड के इलाका में शराबबंदी लागू करे खाती बात कईनी। उ झारखंड में शराब त ना बंद कईले उल्टा बिहार सीमा प शराब के अनगिनत दोकान खुलवा दिहले।"

नीतीश कहले कि, रघुबर दास अवुरी भाजपा चाहे जवन करे लेकिन अगिला सरकार जब बाबूलाल मरांडी के अगुवाई में बनी त झारखंड में पक्का तौर प शराबबंदी लागू होई। उ कहले कि, शराबबंदी के लागू करे खाती हमरा जवन करे के होई, तवन करब, जाहां जाए के होई उहाँ जाईब, लेकिन झारखंड में शराबबंदी लागू करवा के मानब।

झारखंड के तुलना बिहार से करत नीतीश कुमार कहले कि अभाव के बावजूद आज बिहार विकास के राह प बा जबकि सब ओर से भरल झारखंड विनाश के ओर जाता।

उ कहले कि, जब झारखंड बिहार से अलग भईल त बिहार के सालाना बजट 30 हजार करोड़ रुपया के रहे, लेकिन आज बिहार के सालाना बजट 1.60 लाख करोड़ रुपया बाटे। बिहार में कुछूओ ना रहे लेकिन झारखंड में लोहा, कोयला समेत तमाम खनिज के भरमार बा एकरा बावजूद एकर विकास नईखे होखत।

नीतीश कहले कि, झारखंड में देश में नंबर एक राज्य बने के क्षमता बा। लेकिन इहाँ के सरकार एकरा के गर्त में ढकेलले जातिया। उ जनता से अयीसन सरकार के उखाड़ फेंके के अपील करत झारखंड के दुर्दशा प चिंता जतवले।

  • Share on:
Loading...