बिहार में फिल्म पद्मावत के रिलीज प संशय बरकरार, यूपी समेत कई राज्य में फिल्म से रोक हटल

बिहार में फिल्म पद्मावत के रिलीज प संशय बरकरार, यूपी समेत कई राज्य में फिल्म से रोक हटल

संजय लीला भंसाली के विवाद में घेराईल फिल्म के कुछ संशोधन अवुरी नाम बदल के पद्मावत रखला के बावजूद बिहार में रिलीज होखे प मीडिया से बातचीत में बिहार सरकार के कला संस्कृति मंत्री शिवचंद्र राम कहले कि फिलहाल कवनो फैसला नईखे लिहल गईल।

मंत्री कहले कि दु-तीन दिन में बईठ क पूरा फिल्म के बारे में विचार-विमर्श कईल जाई अवुरी ओकरा बाद कवनो फैसला लिहल जाई। मंत्री कहले कि फिल्म में भईल कट अवुरी बदलाव के बारे में थोड़ा-बहुत जानकारी मिलल बा, लेकिन बिहार में फिल्म प से अभी रोक नईखे हटावल गईल। बैठक के बाद फिल्म के रिलीज प कवनों फैसला लिहल जाई।

याद रहे कि एकरा से पहिले फिल्म के नाम पद्मावती रहे, जवन अब बदल के 'पद्मावत' क दिहल बा। उत्तर प्रदेश समेत कई राज्य फिल्म से रोक वापस ले लेलस। फिल्म के विवाद में घेरईला के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आदेश प बिहार सरकार फिल्म प रोक लगा देले रहे।

रिलीज से पहिले इ फिल्म बहुत चर्चा में रहल अवुरी इ बॉलीवुड के पहिला फिल्म होई जवन थ्री डी तकनीक के संगे रिलीज होई। ए बात के आधिकारिक पुष्टि हो गईल बा कि संजय लीला भंसाली के विवादित फिल्म पद्मावती अब पद्मावत नाम से 25 जनवरी के रिलीज होखे वाली बिया।

बतावल जाता कि फिल्म में कुछ बदलाव भईल बा अवुरी फिल्म के जवना भाग प विवाद रहे, ओकरा के हटावे के कोशिश भईल बा। ओकरा बाद सीबीएफसी ए फिल्म के रिलीज करे के मंजूरी दे देलस।

मालूम रहे कि 28 नवंबर के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अधिकारी के बिहार में फिल्म 'पद्मावती' प रोक लगावे के निर्देश देले रहले। बॉलीवुड फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के फिल्म 'पद्मावती' से जुड़ल विवाद बिहार विधानसभा तक पहुंच गईल रहे।

सुपौल के छातापुर से भाजपा विधायक नीरज कुमार सिंह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के फिल्म पद्मावती प रोक लगावे खाती एगो चिट्ठी सौंपले रहले। ओकरा बाद मुख्यमंत्री इ फैसला लेले रहले।

  • Share on:
Loading...