फोटो: बिहार के पतोह 'मिसेज इंडिया' के फ़ाइनल में पहुँच के तहलका मचा दिहली

'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट बिहार के पटना निवासी शिवांगी कुशाल शराफ

'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट बिहार के पटना निवासी शिवांगी कुशाल शराफ

शादीशुदा महिला खाती भारत के सबसे बड़ अवुरी प्रतिष्ठित सौन्दर्य प्रतियोगिता ( ब्‍यूटी पीजेंट) 'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' में बिहार के शिवांगी कुशाल शराफ फाइनल में पहुंचल बाड़ी।

Shivangi Saraf
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट शिवांगी कुशाल शराफ

शादीशुदा महिला के भीतरी के सुंदरता, प्रतिभा अवुरी ज्ञान के निखारे अवुरी देश के सोझा ले आवे खाती मशहूर ए प्रतियोगिता में बिहार के कवनो पतोह के अंतिम पड़ाव तक पहुंचल बहुत गर्व के बात बा।

Shivangi Saraf
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट शिवांगी कुशाल शराफ

ए प्रतियोगिता के अंतिम पड़ाव में पहुंचल शिवांगी कहली कि बियाह के बाद जीवन खतम ना होखेला। जीवन में पति, बच्चा अवुरी परिवार के आपन-आपन महत्व बा, लेकिन ओतने महत्व अपना जीवन के भी बा। आज ए प्रतियोगिता के अंतिम पड़ाव में पहुंचला प हमरा खुद अपना प गर्व होखता अवुरी इ सभ हमरा पति अवुरी परिवार के समर्थन के बिना संभव ना रहे।

Shivangi Saraf
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट शिवांगी कुशाल शराफ

शिवांगी के कहनाम बा कि हरेक इंसान में ताकत होखेला, सिर्फ सोच बदलला के जरूरत बाटे। 'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' ए पड़ाव प अपना खाती समर्थन जुटावत शिवांगी कहली कि ए प्रतियोगिता में सबकुछ 'टास्‍क' में आपके प्रदर्शन तय करेला, एही आधार प फ़ाइनल में 'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के विजेता के चुनाव होई।

Shivangi Saraf
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट शिवांगी कुशाल शराफ

जनता से समर्थन करे के निहोरा करत शिवांगी कहली कि हम आपन पहिला टास्क के बहुत बढ़िया से पूरा क लेले बानी अवुरी अब हमरा दुसरका टास्क में जाए के बा, लेकिन हमरा पूरा भरोसा बा कि बिहार समेत पूरा देश के लोग हमार सपोर्ट करीहे।

Shivangi Saraf
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस 2018' के फाइनलिस्ट शिवांगी कुशाल शराफ

राउरकेला (उड़ीसा) में जन्म अवुरी पढ़ाई-लिखाई करेवाली शिवांगी एगो घरेलू महिला हई अवुरी बियाह के बाद से पटना में रहेली। एगो दु साल के बेटी के महतारी ए सौन्दर्य प्रतियोगिता के बहुत खास महत्व देतारी अवुरी एकरा बाद भविष्‍य में फैशन के क्षेत्र में बिहार के लईकिन खाती काम कईल चहतारी।

Mrs India - queen of substance
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस' के प्रतियोगी

शिवांगी के कहनाम बा कि बिहार में प्रतिभा त बहुत बा, लेकिन सुविधा अवुरी माहौल नईखे। बिहार सरकार के दहेज अवुरी बाल विवाद विरोधी अभियान के समर्थन करेवाली शिवांगी कहली कि बाल विवाह त बहुत नाजायज काम बा। जवना उमर में लोग आपन फैसला तक नईखन ले सकत उ लोग घर कईसे चलईहे?

Mrs India - queen of substance
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस' के प्रतियोगी

उ कहली कि ए मामला में सरकार के अलावे माई-बाप के भी सोचे अवुरी समझे के चाही अवुरी एकरा खिलाफ आगे आवे के चाही। दहेज के बारे में उ कहली कि उ एकरा एकदम खिलाफ बाड़ी अवुरी उनुकर बियाह बिना दहेज के भईल बा।

Mrs India - queen of substance
'मिसेज इंडिया - क्‍वीन ऑफ सब्‍स्‍टांस' के प्रतियोगी

उ कहली कि आज बिहार जईसन राज्य में दहेज के सामाजिक प्रतिष्ठा के निशानी बना दिहल बा, जवन कि पूरा तरीका से गलत बा।

  • Share on:
Loading...