बिहार बोर्ड अपना गलती के कबूल कईलस, रातों-रात चुपचाप सुधार भईल

बिहार बोर्ड अपना गलती के कबूल कईलस, रातों-रात चुपचाप सुधार भईल

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बिहार बोर्ड) के इंटर परीक्षा के रिज़ल्ट में गड़बड़ी प बवाल खड़ा भईला के बाद रविवार के चुपचाप अपना गलती के कबूल क लेलस अवुरी मार्कशीट में बदलाव करत अपना वेबसाइट प अपलोड क देलस।

बोर्ड के ए कदम से ओ छात्र के सही रिज़ल्ट पावे में आसानी होई, जेकरा से पूर्णांक से जादे नंबर मिल गईल बा। अबकी बेर के परीक्षा के रिज़ल्ट में टॉपर के संगे त कवनो विवाद नईखे लेकिन बाकी छात्र के रिज़ल्ट में भयानक गड़बड़ी देखे के मिलता।

कुछ छात्र के मार्कशीट प दर्ज नंबर पूर्णांक से जादे बा त कुछ छात्र के नंबर बहुत कम बा। अयीसन बहुत छात्र बाड़े जवन कि इंजीन्यरिंग के संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) में बढ़िया प्रदर्शन कईले बाड़े जबकि बोर्ड के रिज़ल्ट के मुताबिक ओ लोग के बहुत कम नंबर आइल बा अवुरी फेल हो गईल बाड़े।

बिहार बोर्ड के ओर से जारी इंटर परीक्षा के रिज़ल्ट में 50 नंबर वाली आरबी नॉन हिन्दी के संगे 50 नंबर वाली अल्टरनेटिव इंग्लिश के परीक्षा देवे वाला छात्र के मार्कशीट प दुनो के नंबर जोड़ दिहल रहे।

जबकि दुनो विषय के परीक्षा एक संगे होखेला लेकिन नंबर अलग-अलग मिलेला। बोर्ड दुनो विषय के नंबर त देलस लेकिन दुनो के नंबर एकही कॉलम में जोड़ के देखा देलस। बोर्ड के ए गलती से बहुत छात्र के नंबर पूर्णांक से जादे हो गईल।

अब बोर्ड मार्कशीट के डिजाइन में बदलाव क अपना गलती में सुधार कईले बा। बोर्ड के ओर से वेबसाइट प उपलब्ध मार्कशीट के नया डिज़ाइन में एगो ए बाद के ध्यान राखल बा कि दुनो विषय के अंक अलग-अलग देखाई देवे। नयकी मार्कशीट में अनिवार्य विषय खाती अलग-अलग अंक देवे के बदला एगो नया कॉलम बनावल बा।

हालांकि फेल होखेवाला चाहे नंबर से असंतुष्ट छात्र के त बोर्ड के ए कदम से कवनो फायदा ना होई लेकिन जवना-जवना छात्र के पूर्णांक से जादे नंबर मिलल बा उ लोग अपना सही मार्कशीट के डाउनलोड क सकेले।

मालूम रहे कि इंटर परीक्षा में गड़बड़ी के आरोप लगावत बिहार के छात्र राज्य भर में विरोध प्रदर्शन करतारे। जगह-जगह प छात्र सड़क जाम क के बिहार बोर्ड के अध्यक्ष के बर्खास्त करे अवुरी कॉपी के दोबारा जांच करावे के मांग करतारे।

एह बीच छात्र लोग के राजनीतिक समर्थन भी मिले लागल बा। एक ओर राजद के छात्र इकाई (छात्र राजद) आ कांग्रेस के छात्र इकाई (एनएसयूआई) बिया त दोसरा ओर जन अधिकार पार्टी भी छात्रन के मांग के समर्थन करतिया।

रविवार के राज्य के अलग-अलग हिस्सा में छात्र अवुरी छात्र संगठन के लोग प्रदर्शन कईले अवुरी रिज़ल्ट में गड़बड़ी के आरोप लगवले। हालांकि बोर्ड के कहनाम बा कि रिज़ल्ट में कवनो गड़बड़ी नईखे।

बोर्ड के कहनाम बा कि जवन भी गड़बड़ी भईल बा उ फॉर्म भरे के स्तर प भईल बा। बिहार बोर्ड कवनो कीमत प कॉपी जांच में गड़बड़ी के आरोप के माने के तैयार नईखे। संगही ओकरा लगे एकर जवाब नईखे कि पूर्णांक से जादे अंक छात्र के कईसे मिलल?

  • Share on:
Loading...