बिहार: मैट्रिक परीक्षा के 42,400 कॉपी मूल्यांकन केंद्र से गायब

बिहार: मैट्रिक परीक्षा के 42,400 कॉपी मूल्यांकन केंद्र से गायब

इंटर के रिज़ल्ट में हैरान करेवाला कारनामा देखा चुकल बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बिहार बोर्ड) के ओर से मैट्रिक परीक्षा के रिज़ल्ट के घोषणा मंगलवार चाहे बुधवार के कवनो समय हो सकता। एही बीच एगो अयीसन खुलासा भईल, जवना से मैट्रिक परीक्षा के रिज़ल्ट प सवाल खड़ा हो चुकल बा।

राज्य के गोपालगंज जिला में मैट्रिक परीक्षा के कॉपी के जांच करे खाती बनावल केंद्र (मूल्यांकन केंद्र) से 42,400 कॉपी गायब हो गईल बा। गायब भईल कॉपी गोपालगंज के नगर थाना क्षेत्र में हजियापुर रोड के एसएस बालिका प्लस टू स्कूल के स्ट्रॉंग रूम में धईल रहे। ए मामला में स्कूल के प्रिंसिपल के ओर से आदेशपाल अवुरी रात में स्कूल के रखवारी करेवाला आदमी के खिलाफ मामला दर्ज करावल बा।

मामला के खुलासा तब भईल जब बिहार बोर्ड ए जांच केंद्र से कुछ कॉपी के समीक्षा खाती मंगवलस। मामला के खुलासा के बाद स्कूल के प्रिंसिपल प्रमोद कुमार श्रीवास्तव लिखित आवेदन देके नगर थाना में मामला के जांच करे के निहोरा कईले अवुरी सुरक्षा के मांग करत जान के खतरा होखे के आशंका जतवले।

स्कूल के प्रिंसिपल के मुताबिक 5 अप्रैल, 2018 के समूचा कॉपी स्ट्रॉंग रूम में ध दिहल रहे, जेकरा बाद स्कूल के आदेशपाल छठू सिंह ए रूम में ताला बंद क के सील लगवले रहले। लेकिन अप्रैल से आधा जून के बीच स्कूल में सत्संग के कार्यक्रम के आयोजन भईल अवुरी सत्संग में आईल लोग के रहे के व्यवस्था कईल गईल। जबकि स्कूल में ना त सीसीटीवी लागल बा, ना कवनो खास सुरक्षा व्यवस्था बाटे।

उ बतवले कि ईद (15 जून) के दिन बिहार बोर्ड के ओर से सामाजिक विज्ञान के 2, हिंदी के 2, संस्कृत के 2, गणित के 2, विज्ञान के 2 आ अंग्रेजी के 2 कॉपी समेत कुल 12 कॉपी के समीक्षा खाती मांग कईल गईल।

जब कॉपी देवे खाती स्ट्रॉंग रूम के दरवाजा खोलल गईल त उहाँ से सामाजिक विज्ञान आ विज्ञान के समूचा कॉपी गायब रहे। जब बाकी सभ विषय के जांच भईल त पाता चलल कि स्ट्रॉग रूम से हिंदी, अंग्रेज़ी , उर्दू , विज्ञान , सामाजिक विज्ञान समेत अलग-अलग विषय के दर्जनों बैग गायब रहे।

फिलहाल ए मामला में गोपालगंज के नगर थाना में आदेशपाल अवुरी चौकीदार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज क लिहल बा अवुरी जांच कईल जाता। ओने बिहार बोर्ड ए मामला में स्कूल के हेडमास्टर के पटना बोलवले बा। संभावना बा कि हेडमास्टर से बोर्ड के ऑफिस में पूछताछ कईल जाई।

  • Share on:
Loading...