शिक्षा मंत्री कबूल कईले कि सभ कॉपी नईखे मिलल, स्क्रूटनी खाती विकल्प के तलाश

बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा।

बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा।

बिहार के मैट्रिक परीक्षा के कॉपी घोटाला में सभ कॉपी के बरामद ना होखे के खबर के पुष्टि करत राज्य के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा कहले कि जदी सभ कॉपी बरमाद नईखे होखे पावत त दोसर कवनो रास्ता निकालल जाई।

मंगलवार के सांझ आवे वाला मैट्रिक परीक्षा के रिज़ल्ट के इंटर परीक्षा के मुक़ाबले बेहतर होखे के दावा करत कृष्णनंदन वर्मा कहले कि अबकी साल के मैट्रिक परीक्षा के रिज़ल्ट पछिला साल से बढ़िया होई अवुरी अबकी साल जादे छात्र पास होईहे।

हालांकि उ अपना दावा के पीछा कवनो तर्क ना देले लेकिन उम्मेद जतवले कि रिज़ल्ट पहिले से बढ़िया होई। बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर के क्षमता अवुरी भूमिका प उठत सवाल प शिक्षा मंत्री कहले कि सरकार आनंद किशोर के कामकाज से संतुष्ट बिया।

भाजपा नेता नवल किशोर यादव के ओर से आनंद किशोर प लगावल आरोप के खारिज करत शिक्षा मंत्री बोर्ड अध्यक्ष के क्लीन चीट देले अवुरी कहले कि आनंद किशोर अपना पूरा कार्यकाल में बेदाग बाड़े, एहसे उ आगे भी बोर्ड अध्यक्ष बनल रहिहे।

मैट्रिक परीक्षा के रिज़ल्ट में भईल देरी खाती खेद जतावत कृष्णनंदन वर्मा कहले कि गोपालगंज के मूल्यांकन केंद्र से कॉपी के गायब होखला के चलते रिज़ल्ट में देरी भईल। ए मामला में कार्रवाई चलता अवुरी उम्मेद बा कि सभ कॉपी बरामद हो जाई।

कॉपी बरामद ना होखला प स्क्रूटनी अवुरी दोबारा से मूल्यांकन कईसे होई? ए सवाल के जवाब में शिक्षा मंत्री कहले कि जदी समूचा कॉपी नईखे बरामद होखत त कवनो दोसर राह खोजल जाई। दोसर राह का होई ए बारे में उ कुछूओ बतावे से इनकार क देले।

उ कहले कि एसआईटी बिहार अवुरी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग जगह प छापामारी करतिया। कॉपी के देवरिया में होखे के सूचना मिलल बा। छापामारी कईल जाता अवुरी जल्दीए सभ कॉपी के बरामद क लिहल जाई।

  • Share on:
Loading...