बैंक ऑफ चाइना के रिजर्व बैंक भारत में कारोबार करे के लाइसेंस देलस

चीन सरकार के स्वामित्व वाला करीब 106 साल पुरान बैंक ऑफ चाइना पछिला साल पाकिस्तान अवुरी तुर्की में शाखा खोल चुकल बा।

चीन सरकार के स्वामित्व वाला करीब 106 साल पुरान बैंक ऑफ चाइना पछिला साल पाकिस्तान अवुरी तुर्की में शाखा खोल चुकल बा।

चीन-भारत के नरम-गरम संबंध के बीच एगो चौंका देवे वाला फैसला में भारतीय रिजर्व बैंक चीन के 'बैंक ऑफ चाइना' के भारत में कारोबार करे खाती लाइसेंस जारी क देलस। कुछ समय पहिले जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के दौरा प गईल रहले, तब चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग संगे भईल बातचीत के दौरान ए मामला में सहमति बनल रहे।

चीन सरकार के स्वामित्व वाला करीब 106 साल पुरान बैंक ऑफ चाइना पछिला साल पाकिस्तान अवुरी तुर्की में शाखा खोल चुकल बा। बैंक ऑफ चाइना में करीब 3 लाख 10 हज़ार लोग काम करेले अवुरी हेड ऑफिस चीन के राजधानी बीजिंग में बाटे।

बैंक ऑफ चाइना के भारत में कारोबार करे के अनुमति मिले से पहिले साल 2011 में भारतीय रिजर्व बैंक के ओर से 'इंडस्ट्रियल एंड कमर्शियल बैंक ऑफ़ चाइना' (आईसीबीसी) के मुंबई में शाखा होखे के अनुमति मिलल रहे।

मालूम रहे कि भारत से आयात होखेवाला गैर-बासमती चावल, चीनी अवुरी दवाई प चीन छुट देवे प सहमत हो गईल बा। जानकार बतावतारे कि चीन के ओर से भारत के पक्ष में उठावल कदम के जवाब में भारत सरकार बैंक ऑफ चाइना के कारोबार के लाइसेंस देवे के फैसला कईले बिया।

पूंजी के मुताबिक दुनिया के कुछ प्रमुख बैंक के श्रेणी में गिनाए वाला बैंक ऑफ चाइना भारत से पहिले पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, आयरलैंड, फ्रांस, जर्मनी, इटली, मलेशिया, दक्षिण अफ्रीका, सिंगापुर, जापान समेत कुल 27 देश में कारोबार करेला।

  • Share on:
Loading...