बिहार में बंद हो चुकल कल्याणपुर सीमेंट फ़ैक्टरी के डालमिया भारत ग्रुप खरीदलस

कल्याणपुर सीमेंट एक समय बिहार के सबसे बड़ सीमेंट ब्रांड में गिनात रहे, लेकिन बाद में घाटा के चलते बंद हो गइल। एगो अनुमान के मुताबिक कंपनी प करीब 600 करोड़ रुपया के देनदारी रहे।

कल्याणपुर सीमेंट एक समय बिहार के सबसे बड़ सीमेंट ब्रांड में गिनात रहे, लेकिन बाद में घाटा के चलते बंद हो गइल। एगो अनुमान के मुताबिक कंपनी प करीब 600 करोड़ रुपया के देनदारी रहे।

सीमेंट उत्‍पादन के क्षेत्र में देश के टॉप चार कंपनी में से एक डालमिया भारत ग्रुप के सीईओ सह ग्रुप ऑफिसर महेंद्र सिंघी बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार समेत अलग-अलग विभाग के मंत्री आ अधिकारी से भेट कईले अवुरी सहयोग खाती धन्‍यवाद देले।

डालमिया भारत ग्रुप के पटना कार्यालय में मंगलवार के आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में सिंघी बतवले कि घाटा में चलत कल्‍याणपुर सीमेंट फैक्‍ट्री के अब डालमिया भारत ग्रुप के कंपनी डालमिया एफबीएस (फाइन ब्‍लेंडर कंपोजिट सीमेंट) सीमेंट नाम से टेक ओवर क लेले बिया।

उ बतवले कि कंपनी सबसे पहिले बंद हो चुकल कल्‍याणपुर सीमेंट के दोबारा से चालू करे के काम शुरू क‍ देले बिया अवुरी प्‍लांट शुरू होखे से पहिले कल्याणपुर सीमेंट प्लांट के परिसर में रहेवाला लोग खाती बिजली समेत बाकी सुविधा बहाल क दिहल बा।

सिंघी बतवले कि डालमिया भारत ग्रुप कल्‍याणपुर सीमेंट फैक्‍ट्री के तमाम मजदूर के बकाया 30 करोड़ रुपया के भुगतान क चुकल बिया। उ कहले कि प्लांट के दोबारा से चालू करे में बिहार सरकार के बहुत मदद मिलल। एकरा खाती उ मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी समेत अलग-अलग विभाग के अधिकारी के धन्यवाद देले।

उ बतवले कि डालमिया भारत ग्रुप के क्षमता आज 260 लाख टन बा, जवन कि कल्याणपुर सीमेंट के टेक ओवर के बाद अवुरी बढ़ जाई। उ कहले कि डालमिया ग्रुप कार्बन फुट प्रिंट के मामला में भारत समेत दुनिया भर में सर्वश्रेष्ठ बा। डालमिया ग्रुप के लक्ष्‍य पर्यावरण को बिना नुकसान पहुंचवले सीमेंट के उत्‍पादन बाटे।

  • Share on:
Loading...