पवन सिंह के 'लूलिया' के गिरफ्तार करे गईल इंस्पेक्टर खुद गिरफ्तार हो गईल!

भोजपुरी सिनेमा के 'लूलिया गर्ल' निधि झा

भोजपुरी सिनेमा के 'लूलिया गर्ल' निधि झा

पछिला कुछ समय से भोजपुरी सिनेमा जगत में बदलाव के बयार चलता। हालांकि ए हवा के रफ्तार अभी कम बा लेकिन धीरे-धीरे हवा बहत जरूर बिया। एही कड़ी में बिहार के कुछ उत्साही युवा 'गैंगस्टर दुल्हिनिया' नाम से एगो फिल्म बनवले बाड़े, जवना के प्रचार-प्रसार खाती फिल्म के मुख्य कलाकार, गौरव झा आ 'लूलिया का मांगेले …' से मशहूर भईल निधि झा पटना पहुंचले।

बिहार झारखंड के करीब 50 सिनेमाघर में एक संगे रिलीज हो चुकल 'गैंगरस्टर दुल्हिनिया' के निर्देशक बाड़े सौरभ सुमन जबकि निर्माता बाड़े कुमार विवेक।

पटना में आयोजित एगो प्रेस वार्ता के दौरान अभिनेता गौरव झा बतवले कि 'गैंगस्टर दुल्हिनिया' में उनुकर भूमिका एगो अयीसन पुलिस अधिकारी के बा, जवन कि आपन पहचान छिपा के एगो गैंग प निशाना साधता, लेकिन ए दौरान उ ए गैंग के महारानी, माने मुखिया - निधि झा के प्यार में खुद गिरफ्तार हो जाता।

लूलिया गर्ल के नाम से भोजपुरी इंडस्ट्री में मशहूर निधि झा बतवली कि फ़िल्म में उनुकर भूमिका एगो खतरनाक अपराधी के बाटे। उ कहली कि भोजपुरी सिनेमा के इतिहास में आज तक अयीसन भूमिका कवनो हीरोइन के नईखे मिलल। निधि के मुताबिक उनुकर भूमिका अवुरी फिल्म बाकी फिल्म से एकदम अलग बिया।

जहां तक निधि झा के लूलिया गर्ल बने के कहानी बा, त जान लीही कि पवन सिंह के फिल्म 'सत्या' में एगो गाना रहे 'लूलिया का मांगेले ... '। इ गाना बहुत बड़ हिट साबित भईल अवुरी तबहिए से निधि झा के पहचान 'लूलिया गर्ल' बन गईल। ए गाना में पवन सिंह के संगे निधि झा रहली।

फिल्म के निर्देशक सौरभ सुमन बतवले कि फ़िल्म के कहानी नारी के बदलत भूमिका के ओर इशारा करतिया। आज के नारी कवनो मामला में पुरुष से पीछा नईखी।

निर्माता कुमार विवेक बतवले कि आज बिहार के गांव के शहरीकरण हो चुकल बा अवुरी भोजपुरी सिनेमा के दर्शक करीब 20 साल पुरान कहानी के देखत-देखत अकुता गईल बाड़े। उ कहले कि 'गैंगस्टर दुल्हिनिया' आज के बिहार के कहानी बिया, जवन कि आज के युवा अवुरी समाज के ध्यान में राखत पर्दा प उतरल बिया।

  • Share on:
Loading...