बाप के धूम्रपान बच्चा में कैंसर के कारण बन सकता: रिपोर्ट

बाप के धूम्रपान बच्चा में कैंसर के कारण बन सकता: रिपोर्ट

धूम्रपान, माने बीड़ी-सिगरेट पिये वाला अपने त कैंसर के खतरा से घेराईले रहेला, लेकिन एकरे संगे ओ आदमी के संतान भी कैंसर के शिकार बन सकेले। इ जानकारी अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान - एम्स के एनोटॉमी विभाग के प्रोफेसर रीमा दादा के शोध में सोझा आइल।

शोध के मुताबिक धूम्रपान से पुरुष के शुक्राणु के ऑक्सीडेटिव डीएनए के नुकसान पहुंचेला, जवना के चलते ओकरा संतान में कैंसर के खतरा बढ़ जाला।

शोध में डॉक्टर 131 पिता अवुरी आरबी कैंसर जीन वाला बच्चा के नमूना जमा कईले। एकरा अलावे 50 स्वस्थ जोड़ा के नमूना के जांच भईल। दुनो प्रकार के लोग के नमूना के जांच से पाता चलल कि पिता के शुक्राणु में ऑक्सीडेटिव डीएनए के नुकसान के चलते ओ लोग के संतान में कैंसर के संभावना अधिका बा।

प्रोफेसर रीमा दादा के मुताबिक, शोध में धूम्रपान छोड़ के योग अवुरी ध्यान करे से पिता के डीएनए में नुकसान कम होखे के जानकारी मिलल। संगही, एकरा से स्पर्म (वीर्य) के डीएनए में सुधार होखेला।

धूम्रपान छोड़के, जवन लोग 6 महीना तक योग कईले, ओ लोग के डीएनए में सुधार देखे के मिलल। योग चिकित्सक एम्स में कईल ए शोध प सहमती जतवले। इ शोध एशिया पैसिफिक जर्नल ऑफ कैंसर प्रिवेंशन में प्रकाशित भईल बा।

  • Share on:
Loading...