प्यार बेटा से बियाह बाप से, प्रेमी-प्रेमिका से सौतेला महतारी-बेटा बनले

फाइल फोटो

फाइल फोटो

प्रेमी के प्यार में पागल प्रेमिका बियाह करे खाती घर से भाग के अपना प्रेमी के घरे पहुँच गईल। लेकिन उहाँ पहुंचला के बाद प्रेमिका के जब पता चलल कि ओकर प्रेमी अभी नाबालिग बा त उ जल्दबाजी में प्रेमी के बाप से ही बियाह क लेलस। अयीसना में लईकी अब प्रेमिका से सौतेली महतारी बन गईली।

जानकारी के मुताबिक, समस्तीपुर जिला के हलई उपथाना क्षेत्र के एगो गांव के लईकी अपना संगे पढ़े वाला लईका से प्यार करत रहे। दुनों लईका-लईकी एक दोसरा से बियाह कईल चाहत रहले। लेकिन दुनों के कहाँ मालूम रहे कि उ सौतेला महतारी-बेटा बन जईहें।

दरअसल लईकी कानूनी पचड़ा से बाचे खाती अपना प्रेमी के पिता से बियाह क लेलस। ए मामला के जांच करत हलई उपथाना के एएसआइ अवधेश कुमार यादव बतवले कि लईकी करीब छव महीना पहिले घर से भाग के पटोरी थाना क्षेत्र के धमौन निवासी सुनील कुमार के नाबालिग बेटा के भीरी आ गईल। ओकरा बाद से दुनों संगे रहत रहले।

ए बीच जब लड़की के पता चलल कि ओकर प्रेमी नाबालिग बा अवुरी ओकरा से बियाह नईखे हो सकत, त अयीसना में उ कानूनी पचड़ा से बाचे खाती प्रेमी के पिता सुनील कुमार से विद्यापति धाम मंदिर में जाके बियाह क लेलस।

बतावल जाता कि सुनील के पत्नी के एक साल पहिले मौत हो गईल रहे। ए बीच लईकी के अपहरण के केस दर्ज होखला के बाद मामला के छानबीन करत जब पुलिस शनिवार के सांझ के सुनील के गिरफ्तार कईलस तब जाके समूचा मामला के खुलासा भईल। पुलिस गिरफ्तार आरोपित राम नरेश राय के बेटा सुनील कुमार के जेल भेज देलस। बरामद लईकी के 164 के बयान खाती कोर्ट में पेश करे के प्रक्रिया चलता।

मालूम रहे कि घर से भागल लईकी जब खोजबीन के बाद ना मिलल, त लईकी के परिवार थाना पहुंच के अपहरण के प्राथमिकी दर्ज करवा देलस। लईकी के पिता के ओर से गांव के चार लोग के खिलाफ मामला दर्ज करवला के बाद पुलिस एकरा आरोप में एक आदमी के गिरफ्तार क लेलस। जवन तीन महीना से जेल में बंद बा।

  • Share on:
Loading...