कोर्ट परिसर में आरोपी के पकड़े पहुंचल पुलिस अवुरी वकील के बीच मारपीट

फाइल फोटो

फाइल फोटो

गया सिविल कोर्ट परिसर में आरोपी के गिरफ्तारी करे पहुंचल पुलिस अवुरी वकील के बीच जम के मारपीट भईल। वकील के कहनाम रहे कि कथित आरोपी प कवनो तरह के वारंट नईखे। जबकि पुलिस केस के दोबारा खुले के हवाला देत रहले। कोर्ट परिसर में मारपीट के घटना के चलते विवाद बढ़ गईल। हालांकि, बाद में स्थानीय गार्ड अवुरी पुलिस अधिकारी के बीच बचाव क मामला के शांत करा लिहल गईल।

बतावल जाता कि मामला विवाहिता के हत्या के आरोपी ससुर के गिरफ्तारी से जुड़ल शुरू भईल रहे। दरअसल, साल 2014 में गुरारू के गुडरू में एगो महिला के मौत भईल रहे। ए मामला में मरेवाली महिला के ससुर समेत समूचा परिवार प महिला थाना में दहेज खाती हत्या के केस दर्ज भईल रहे।

मरेवाली महिला के आरोपी ससुर बब्बन शर्मा के बतवला मुताबिक साल 2014 में एक महीना तक अस्पताल में उ लोग अपना पतोह के सेवा कईले रहले लेकिन ओकर मौत हो गईल। जेकरा बाद उनुकर समधी दहेज हत्या के केस क देले। बब्बन शर्मा बतवले कि उनुकर समधी फेरु से केस खुलवा के उनुका के जबरदस्ती गिरफ्तार करावल चाहत रहले।

मरेवाली महिला के केस लड़े वाला वकील हरिश नारायण के मानल जाए त पीड़ित परिवार के ओर से साल 2014 में महिला थाना में मामला दर्ज करावल रहे। जवना चलते मरेवाली महिला के पिता के संगे महिला थाना के दारोगा लालबाबू यादव आरोपी ससुर के कोर्ट परिसर के बहरी गिरफ्तार कईल चाहत रहले। अयीसना में वकील मुकेश कुमार के ओर से विरोध करे प दुनों के बीच विवाद बढ़ गईल।

मामला अतना बढ़ गईल कि पुलिस पदाधिकारी वकील प हाथ छोड़ देले। जेकरा बाद कोर्ट परिसर के वकील जमा हो गईले अवुरी पुलिस पदाधिकारी के पिटाई करे लगले। हालांकि, बाद में स्थानीय गार्ड अवुरी पुलिस अधिकारी के बीच बचाव क मामला के शांत करा लिहल गईल।

  • Share on:
Loading...