नीतीश डायनासोर निहन बाड़े, आवे वाला दिन में उ अवुरी उनुकर पार्टी गायब हो जाई!

नीतीश डायनासोर निहन बाड़े, आवे वाला दिन में उ अवुरी उनुकर पार्टी गायब हो जाई!

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प एक बेर फेरु से निशाना साधत कहले कि नीतीश कुमार डायनासोर निहन बाड़े। आवे वाला दिन में उ अवुरी उनुकर पार्टी गायब हो जाई। उ जहां रहिहे ओकरे के डुबईहे।

तेजस्वी कहले कि जनता दल यूनाइटेड (जदयू) प्रमुख नीतीश कुमार बिहार में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के सरकार बनावे के छव महीना के भीतर अपना पार्टी के कांग्रेस में विलय खाती तैयार हो गईल रहले। छव महीना में ही उनुकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से मोहभंग हो गईल रहे।

उ कहले कि जब राजद उनुकर (नीतीश) प्रस्ताव ठुकरा देलस त लालू जी के मना लेवे अवुरी पार्टी के कांग्रेस में मर्ज क देवे खाती कांग्रेस के भीरी प्रस्ताव लेके गईले। नीतीश जी दस चाल आगे के सोच के चलेले।

तेजस्वी एगो सवाल के जवाब में कहले कि सवाल त पलटू चाचा से पूछे के चाही कि उ जतना सीट जीतिहे त का उ ओहिजे रहिहे जहां अभी बड़े चाहे ना। संगही, तेजस्वी दावा करत कहले कि महागठबंधन सभे 40 सीट जीती।

तेजस्‍वी यादव के आरोप प जदयू महासचिव केसी त्‍यागी कहले कि पार्टी के कवनों दोसरा दल के संगे विलय चाहे महागठबंधन में जाए के कवनो बात ना रहे।

मालूम रहे कि राजद सु्प्रीमो लालू प्रसाद यादव आपन किताब (गोपालगंज टू रायसीना) में लिखले बाड़े कि बिहार में महागठबंधन के सरकार तुर के राजग के सरकार बनावे वाला नीतीश कुमार फेरु महागठबंधन में वापसी चाहत रहले। लालू प्रसाद यादव के मुताबिक, नीतीश कुमार राजग के सरकार बनला के छव महीन के भीतर प्रशांत किशोर के माध्‍यम से एकर प्रस्‍ताव उनुका भीरी भेजले रहले, जवना के उ ना मंजूर क देले रहले।

  • Share on:
Loading...